Breaking News
Home / Latest News / बैहर को जिला बनाने बिरसा में सरपंचों की हुई बैठक 

बैहर को जिला बनाने बिरसा में सरपंचों की हुई बैठक 


बैहर को जिला बनाने बिरसा में सरपंचों की हुई बैठक                        ( बैहर जिला नही बनने से कान्हा के अस्तित्व खतरे में – सूरज ब्रम्हे )                                        बैहर को जिला बनाने विगत 25 वर्षों से बैहर जिला बनाओ संघर्ष समिति के संयोजक सूरज ब्रम्हे के नेतृत्व में संघर्ष किया जा रहा है। 1996 से अभी तक जितने भी मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश में सत्तासीन हुवे सभी को बैहर जिला बनाओ संघर्ष समिति के माध्यम से ज्ञापन दिया जा चुका है। किन्तु सरकार ने अभी तक बैहर को जिला बनाने की घोषणा नही की है। जबकि मध्यप्रदेश सरकार ने बैहर से भी छोटी से छोटी तहसील को जिला बना दिया है। इसी तारतम्य में बैहर को जिला बनाने के लिए बैहर जिला बनाओ संघर्ष समिति के संयोजक सूरज ब्रम्हे एवं अध्यक्ष एफ.एस. कमलेश के द्वारा गांव-गांव भ्रमण कर बैठके ली जा रही है। इसी सम्बन्ध में बिरसा जनपद पंचायत क्षेत्र के 62 सरपंचों की उपस्तिथि में बिरसा में बैठक ली गई। बैठक को संबोधित करते हुवे संयोजक सूरज ब्रम्हे ने कहा कि अब समय आ गया है की बैहर, बिरसा और परसवाड़ा क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों, व्यापारियों औऱ बुद्धिजीवियो तथा क्षेत्र की जनता को एक होकर बैहर को जिला बनाने के लिए संघर्ष करने की जरूरत है।  क्योंकि जिला मुख्यालय के एक – दो स्वार्थी नेताओ के द्वारा बैहर को जिला बनने से रोकने के लिए षणयंत्र रचा जा रहा है। इन स्वार्थी नेताओं के द्वारा नैनपुर को जिला बनाने के लिए सम्पूर्ण परसवाड़ा क्षेत्र को जोड़कर नैनपुर को जिला बनाना चाहते हैं। ऐसी जानकारी मिल रही है। यदि ये नेता अपने षणयंत्र में कामयाब हो गए तो फिर बैहर कभी जिला नही बन पायेगा श्री ब्रम्हे ने सभी सरपंच भाइयों एवं बहनों से कहा कि दलगत राजनीति से ऊपर उठकर हमें अपने क्षेत्र के विकास और हमारे आने वाली पीढ़ी के भविष्य के लिए बैहर को जिला बनाना जरूरी हो गया है। सभी सम्माननीय सरपंच अपने-अपने ग्राम पंचायत में ग्राम सभा का आयोजन कर बैहर को जिला बनाने का प्रस्ताव पारित कर मा.मुख्यमंत्री जी एवं महामहिम राज्यपाल के नाम प्रस्ताव के साथ पत्र प्रेषित कर बैहर को जिला बनाने की मांग करें।
श्री ब्रम्हे ने कहा कि यदि बैहर जिला नही बन पाया तो कान्हा का अस्तित्व , हमारे आने वाली पीढ़ी का अस्तित्व खतरे में पड़ जायेगा। अध्यक्ष एफ.एस. कमलेश ने कहा कि बैहर को जिला बनाना बहुत जरूरी है। क्योंकि हमारे क्षेत्र के अंतिम गांव की जिला मुख्यालय से दूरी लगभग 140 से 145 किलोमीटर है। जिससे हमारे क्षेत्र के लोगों को छोटे-छोटे कामों के लिए आने-जाने में बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता है। और भी बहुत सी परेशानी होती है। जो बैहर जिला बनने से हल होगी। सारे जिला कार्यालय की स्थापना बैहर में होगी जिससे हमारे क्षेत्र के लोगों का हर काम बैहर में ही हो जायेगा किसी को बालाघाट जाने की जरूरत नही पड़ेगी। इसलिए हम सबको मिलकर बैहर को जिला बनाने संघर्ष करना पड़ेगा। बैठक में उपस्तिथ सरपंचों ने बैहर को जिला बनाने के लिए बैहर जिला बनाओ संघर्ष समिति के हर लड़ाई में सहयोग करने का वचन दिया और कहा कि हम सभी सरपंच अपने पंचायत में ग्राम सभा की बैठकर प्रस्ताव पारित करवा कर मा.मुख्यमंत्री एवं महामहिम राज्यपाल महोदय को पत्र प्रेषित करने का संकल्प लिया। बैठक में विशेष रूप से  सरपंच संघ की अध्यक्ष श्रीमती धानेश्वरी मेरावी, सरपंच संघ के उपाध्यक्ष प्रेम सिंह मरकाम, बसंत मेरावी, श्रीमती परबत मेरावी, श्रीमती ममता वरकड़े, मंगल सिंह धुर्वे, राजेन्द्र उइके, श्रीमती मीना मेरावी, श्रीमती जमुना बाई धुर्वे, अशोक वल्के एवं अन्य सभी सरपंच उपस्तिथ थे।                                         प्रति, श्रीमान सम्पादक जी, जिला प्रतिनिधि, तहसील प्रतिनिधि ……सादर प्रकाशनार्थ                प्रेषक – सूरज ब्रम्हे , संयोजक बैहर जिला बनाओ संघर्ष समिति
PLZ Subscribe RN TODAY NEWS CHANNEL https://www.youtube.com/channel/UC8AN-OqNY6A2VsZckF61m-g PLZ Subscribe न्यूज़ या आर्टिकल देने के लिए संपर्क करें (R ANSARI +919927141966)

About Rihan Ansari

Check Also

निर्माता और अभिनेता शांतनु भामरे को महाराष्ट्र रत्न गौरव पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ निर्माता और अभिनेता के रूप में सम्मानित किया गया

🔊 पोस्ट को सुनें निर्माता और अभिनेता शांतनु भामरे को महाराष्ट्र रत्न गौरव पुरस्कार में …

Leave a Reply

Your email address will not be published.