Breaking News
Home / Latest News / जिस की गाढ़ी कमाई जाती उसका दिल रोता,एक एक रुपया जोड़कर अपने सपने संजोने के लिए वह इखट्ठा करता,उसका दर्द ना तो क्राइम करने वाले को दिखता और ना ही संबंधित विभाग को

जिस की गाढ़ी कमाई जाती उसका दिल रोता,एक एक रुपया जोड़कर अपने सपने संजोने के लिए वह इखट्ठा करता,उसका दर्द ना तो क्राइम करने वाले को दिखता और ना ही संबंधित विभाग को


जिस की गाढ़ी कमाई जाती उसका दिल रोता,एक एक रुपया जोड़कर अपने सपने संजोने के लिए वह इखट्ठा करता,उसका दर्द ना तो क्राइम करने वाले को दिखता और ना ही संबंधित विभाग को
पीड़ित थानों व साईबर क्राइम ऑफिसों के चक्कर काटकर थक जाता और दिल को यह तस्सली दे लेता
साइबर क्राइम करने वाले नए-नए तरीकों से कर रहे हैं अपराध! जागरूकता के अभाव में भी लूट रहे लोग
स्मार्टफोन या कंप्यूटर जैसे इंटरनेट आधारित यंत्रों को हैक करके बड़े अपराधों को भी अंजाम दिया जा रहा
साईबर क्राइम जिस तरह पनप रहा है तथा लोगों को ठगा जा रहा है लोगो की गाढी कमाई पल में ही उड़ जा रही है और साईबर क्राईम व थाना पुलिस कुछ नही कर पा रही हैं कई मामलों में तो पीड़ित थानों व साईबर क्राइम ऑफिसों के चक्कर काटकर थक जाता है और दिल को यह तस्सली दिलाता है कि पैसा मेरी किस्मत का नहीं था लेकिन जिस की गाढ़ी कमाई जाती है उसका दिल रोता है एक एक रुपया जोड़कर अपने सपने संजोने के लिए वह इखट्ठा करता हैं उसका दर्द ना तो क्राइम करने वाले को दिखता और नाही संबंधित विभाग को!आज कल आनलाइन गतिविधियों में धोखाधड़ी या ठगी के मामलों में जिस कदर बढ़ोतरी हो रही है और जल्दी इससे निपटने के प्रयास नहीं हुए तो आने वाले वक्त में डिजिटल दुनिया बहुत सारे लोगों के लिए एक परेशान करने वाला अनुभव साबित होगा!देश में इंटरनेट आधारित कामकाज या अन्य गतिविधियों के अभी बहुत वक्त नहीं बीते हैं लेकिन अभी ही जो तस्वीर उभर कर सामने आ रही है वह चिंता पैदा करने के लिए काफी है!देश मे ऐसे तमाम लोग भी हैं जिन्हें एटीएम या डेबिट कार्ड या फिर क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल करते हुए ठग लिया गया!इसके अलावा इंटरनेट आधारित कारोबार और बैंक खाते को लिंक कराने से लेकर अन्य कई अन्य तरीके से लोगों के साथ धोखाधड़ी हुई!आमतौर पर कोई भी तकनीक अपने आप में किसी काम को आसान बनाने का जरिया होती है। लेकिन किसी भी तकनीक का सुरक्षित होना इस बात पर निर्भर करता है कि उसका उपयोग करने वाला व्यक्ति उसके बारे में किस स्तर तक प्रशिक्षित है!पिछले कुछ सालों के दौरान समूची दुनिया में अमूमन हर क्षेत्र में डिजिटल गतिविधियों को प्रोत्साहित किया गया है!बल्कि कई जगहों पर तो इसके जरिए कोई काम कराना लगभग अनिवार्य बना दिया गया है!खुद सरकारी महकमों में सारे कामकाज को आनलाइन बनाने का प्रयास चल रहा है!लेकिन हकीकत यह है कि इंटरनेट के प्रसार के साथ-साथ ठगी धोखाधड़ी जैसे अपराधों के पुराने तरीके भी बदल कर इसी मुताबिक नए हो रहे हैं!साइबर ठगों का एक नया संजाल खड़ा हो रहा है जो स्मार्टफोन या कंप्यूटर जैसे इंटरनेट आधारित यंत्रों को हैक करके बड़े अपराधों को भी अंजाम दे रहा है!यह ध्यान रखने की जरूरत है कि शहर से लेकर गांवों तक डिजिटल तकनीकी के बढ़ते इस्तेमाल के साथ-साथ उसी अनुपात में अगर इसके सुरक्षित उपयोग के मामले में आम लोगों को जागरूक सावधान और प्रशिक्षित नहीं किया गया तो यह आधुनिक तकनीक सुविधा या फायदे के बजाय ज्यादा नुकसान का ही वाहक बनेगा!खुद सरकार को डिजिटल गतिविधियों को पूरी तरह सुरक्षित बनाने के लिए एक ठोस और चौकस तंत्र बनाना चाहिए।

PLZ Subscribe RN TODAY NEWS CHANNEL https://www.youtube.com/channel/UC8AN-OqNY6A2VsZckF61m-g न्यूज़ या आर्टिकल व विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें (RN TODAY NEWS +919927141966) https://www.youtube.com/channel/UCFS7PmVqRXSD_4CQXaYvx0A  PLZ Subscribe

About Rihan Ansari

Check Also

मॉडल विभूति चौधरी समाजसेविका भी है 

🔊 पोस्ट को सुनें मॉडल विभूति चौधरी समाजसेविका भी है विभूति चौधरी ने मिसिज शान ए हिमाचल …

Leave a Reply

Your email address will not be published.