Breaking News
Home / Latest News / किताब वही कि शुरू से आख़िर तक बांधे रखे, अगर बन्द करनी पड़े तो भी दिमाग़ में खुली रहे। सिलिस्ती अपनी दूसरी किताब का अमेज़न पर विमोचन हुआ

किताब वही कि शुरू से आख़िर तक बांधे रखे, अगर बन्द करनी पड़े तो भी दिमाग़ में खुली रहे। सिलिस्ती अपनी दूसरी किताब का अमेज़न पर विमोचन हुआ


किताब वही कि शुरू से आख़िर तक बांधे रखे, अगर बन्द करनी पड़े तो भी दिमाग़ में खुली रहे। जिज्ञासा रहे कि आगे क्या होगा।दो साल से सभी पाठक लोगो को सिलिस्ती की दूसरी नॉवेल का इंतज़ार था, अब वो घडी भी निकट आयी है। सिलिस्ती अपनी दूसरी किताब का अमेज़न पर विमोचन हुआ।  वर्ष 2019 में चमड़े का लुटेरा नामक उपन्यास से चर्चित लेखिका सिलिस्ती करुरिया के दूसरे उपन्यास “समाही: फॉरएवर इन लव” का विमोचन हुआ। “समाही: फॉरएवर इन लव” माहिर और समीरा दो आम ज़िंदगी के किरदारों की कहानी, व्यवस्था की कहानी, जीवन के सार की कहानी। सार यूं कि जिन्हें एक-दूसरे से प्यार हुआ और दोनों ने हमेशा साथ जीने मरने की कसमें खा लीं। लेकिन एक दिन ज़िंदगी ने ऐसा मोड़ लिया कि शादी के दूसरे दिन ही समीरा माहिर को छोड़ कर हमेशा के लिये कहीं चली गई। आख़िर उस दिन ऐसा क्या हुआ था? और समीरा का ऐसा कौनसा अतीत था जो उसको लगातार परेशान कर रहा था? माहिर की जिंदगी में आई दूसरी लड़की, दीपिका की मौत भी ख़ास शादी वाले दिन ही कैसे हुई? समीरा का माहिर के लिए वो आख़िरी संदेश क्या था जो माहिर को मिला था?
इसके पात्र हंसाते हैं लेकिन उनकी व्यंगात्मक शैली वर्तमान पर चोट भी करती है। किसी सीरियल की तरह दिमाग़ में दृश्य बनते जाते हैं और एपिसोड की तरह पलटते पन्नों के साथ दिलचस्पी बढ़ती जाती है। सबसे मजेदार है पात्रों के संवाद के बाद लेखक की उनके मनोभाव को बताती टिप्पणी।
पात्रों की भाषा, आम बोलचाल की भाषा। तिस पर ऐसी भी कि इसमें से उद्धरण निकाले जा सकते हैं। व्यंग्य की परंपरा वाले कोट्स जो जब तक व्यवस्था रहेगी उस पर किए जाते रहेंगे। जिस समाज के भीतर इसके पात्र हैं, वो कतई काल्पनिक नहीं है, हम सब उस का ही हिस्सा हैं इसलिए आप रिलेट भी करते हैं।
सिलिस्ती का दूसरा नॉवेल ‘समाही:फॉरएवर इन लव’  एक फिक्शन नॉवेल है। ऐसे में हिंदी के पाठको के लिए ये उपन्यास रोचक और नया होगा। युवा लेखिका सिलिस्ती ने हिंदी के लेखको और पाठको को एक नया आयाम दिखाया है, जिससे उनको एक नयी सोच का पता लगे। एक नयी पीढ़ी को एक सकारात्मक राह मिले। सिलिस्ती एक नयी सोच लेकर अपनी दूसरी नॉवेल लिखी है। सिलिस्ती करुरिया  वनस्थली विद्यापीठ से माइक्रोबॉयलोजी में पीएचडी कर रही है। सिलिस्ती ने लॉकडाउन का सही उपयोग करते हुए अपनी दूसरी नॉवेल लिख डाली। एक साल की कड़ी मेहनत रंग लायी है जब उनकी दूसरी पुस्तक ‘समाही: फॉरएवर इन लव’  ट्रेडिशनल पब्लिशिंग हाउस ‘कीवी बुक्स इंडिया’ ने प्रकाशन के लिए स्वीकार किया।

PLZ Subscribe RN Today News Channel https://www.youtube.com/channel/UC8AN-OqNY6A2VsZckF61m-g And Whatsapp Send News & Article (RIHAN ANSARI – +919927141966)

About Rihan Ansari

Check Also

आख़िरकार इंतज़ार खत्म हुआ क्योंकि आकर्षक रोमांटिक गाना ‘मन क्यों बहका जा रहा है’ का पूरा गाना रिलीज़ हो गया है

🔊 पोस्ट को सुनें आख़िरकार इंतज़ार खत्म हुआ क्योंकि आकर्षक रोमांटिक गाना ‘मन क्यों बहका …

Leave a Reply

Your email address will not be published.